खेल(बैडमिंटन)

बैडमिंटन रैकेट से खेला जाने वाला, एक अंतर्राष्ट्रीय खेल है। बैडमिंटन उत्साह और रोमांच का खेल है, क्योंकि एक छोटी सी चिड़िया या शटलकॉक एक मैच में जीत या हार के बिंदु के लिए महत्त्वपूर्ण मानी जाती है। ब्रिटिश छावनी शहर पूना में यह खेल ख़ासतौर पर लोकप्रिय रहा, इसीलिए इस खेल को पूना अथवा पूनाई के नाम से भी जाना जाता है।

बैडमिंटन तीन प्रकार से खेला जाता है-

एकल बैडमिंटन

युगल बैडमिंटन

मिश्रित युगल बैडमिंटन

इतिहास और रोचक तथ्य

1.बैडमिंटन की शुरुआत 19वीं सदी के मध्य में ब्रिटिश भारत में मानी जा सकती है, उस समय तैनात ब्रिटिश सैनिक अधिकारियों द्वारा इसका सृजन किया गया था।

2.यह खेल निश्चित रूप से सन् 1873 में ग्लूस्टरशायर स्थित ब्यूफोर्ट के ड्यूक के स्वामित्ववाले बैडमिंटन हाउस में शुरू किया गया था। उस समय तक, इसे “बैडमिंटन का खेल” नाम से जाना जाता था और बाद में इस खेल का आधिकारिक नाम बैडमिंटन बन गया।

3.सन् 1887 तक, ब्रिटिश भारत में जारी नियमों के ही तहत इंग्लैंड में यह खेल खेला जाता रहा। बाथ बैडमिंटन क्लब ने नियमों का मानकीकरण किया और खेल को अंग्रेज़ी विचारों के अनुसार ढाला गया। 1887 में बुनियादी नियम बनाये गए।

4.सन् 1893 में, इंग्लैंड बैडमिंटन एसोसिएशन ने आज के नियमों जैसे ही, इन विनियमों के अनुसार नियमों का पहला सेट प्रकाशित किया और उसी साल 13 सितम्बर को इंग्लैंड के पोर्ट्समाउथ स्थित 6 वैवर्ली ग्रोव के “डनबर” नामक भवन में आधिकारिक तौर पर बैडमिंटन की शुरूआत की।

5.1899 में ऑल इंग्लैंड ओपन बैडमिंटन चैम्पियनशिप शुरू की गयी,जो विश्व की पहली बैडमिंटन प्रतियोगिता बनी।

6.अंतर्राष्ट्रीय बैडमिंटन महासंघ (IBF) (जो अब विश्व बैडमिंटन संघ के नाम से जाना जाता है) सन् 1934 में स्थापित किया गया; कनाडा, डेन्मार्क, इंग्लैंड, फ्रांस, नीदरलैंड, आयरलैंड, न्यूजीलैंड, स्कॉटलैंड और वेल्स इसके संस्थापक बने। भारत सन् 1936 में एक सहयोगी के रूप में शामिल हुआ।

7.बैडमिंटन को ओलम्पिक खेलों में 1992 में शामिल किया गया था|

8.बैडमिंटन के कोर्ट(खेल की जगह) की पूरी चौड़ाई 6.1 मीटर (20 फुट) और एकल की चौड़ाई इससे कम 5.18 मीटर (17 फुट) होती है। कोर्ट की पूरी लंबाई 13.4 मीटर (44 फुट) होती है।

9.नेट किनारों पर 1.55 मीटर (5 फीट 1 इंच) और बीच में 1.524 मीटर (5 फीट) ऊंचा होता है।

10.बैडमिंटन की शटलकॉक का वज़न 73 ग्रेन (4.73 ग्राम) से 85 ग्रेन (5.50 ग्राम) हो। इसमें 1 से 11/2 के व्यास वाली कार्क में 14 से 16 तक कसकर ‘पंख’ लगे हुए हों। पंखों की लम्बाई 21/2 से 23/4 हो तथा ये 21/2 से 21/8 के दायरे में फैले हुए होने चाहिए।

प्रमुख शब्दावली

एंगल्ड ड्राइव सर्व, बैकहैंड लो सर्व, वर्ड, ड्यूस, डबल ड्रॉप, फॉल्ट, फ्लिक सर्व, फोरहैंड स्मैश, लेट, लोब, लव ऑल, नेट शॉट्स, रैली, रश, स्मैश।

प्रमुख खिलाड़ी

पुरुष– चेतन आनंद,मनु अत्री, गुरूसाई दत्त,बी॰ सुमित रेड्डी,पुल्लेला गोपीचंद,पी॰ कश्यप और प्रकाश पादुकोण

महिला – साइना नेहवाल, ज्वाला गुट्टा,पी॰वी॰ सिंधु , अश्विनी पोनप्पा और श्रुति कुरियन-कानेटकर

प्रमुख प्रतियोगिताएं

ओलोम्पिक, एशियन कप,थॉमस कप, प्रीमियर मैन्स इवेंट और उबर कप(महिला विश्वकप के नाम से प्रसिद्द), बीडब्ल्युएफ ग्रैंड प्रिक्स गोल्ड व ग्रैंड प्रिक्स,बीडब्ल्युएफ सुपर सीरीज़ मास्टर्स फाइनल्स ,चाईनीज़ ताईपे ओपेन और मलेशिया ओपेन (बैडमिंटन)सुदिरमान कप और इंडिया ओपेन सुपर सीरीज़|