भारत – ब्राजील वार्ता

गोवा में ब्रिक्स सम्मेलन के बाद भारत और ब्राजील के बीच द्वीपक्षीय शिष्टमंड़ल स्तर की बातचीत हुई। भारत और ब्राजील ने निवेश सहयोग और सुविधा, मवेशी, आनुवांशिकी, औषधि और कृषि के क्षेत्रों में सहयोग के चार समझौतों पर भी हस्‍ताक्षर किये हैं। ब्राजील ने एनएसजी की सदस्यता के लिए भारत की दावेदारी का समर्थन किया।

पीएम मोदी और ब्राजील के राष्ट्रपति मिशेल टेमर के बीच हुई द्विपक्षीय वार्ता के बाद जारी किए गए संयुक्त बयान में आतंकवाद के ख़िलाफ़ अंतरराष्ट्रीय मंच पर भारत की ओर से किए जा रहे प्रयासों का ब्राजील ने खुलकर समर्थन किया। पीएम ने आतंकवाद के ख़िलाफ़ ब्राजील के समर्थन की सराहना भी की|

1.संयुक्त बयान में ब्राजील ने एनएसजी की सदस्यता के लिए भारत की दावेदारी का समर्थन किया तो प्रधानमंत्री मोदी ने ब्राजील का इस बात के लिए धन्यवाद किया कि उसने एनएसजी समूह की सदस्यता की भारत की आकांक्षा को समझा। दोनों नेताओं ने आर्थिक संबंधों को भी आगे और मजबूत करने पर सहमति जतायी ।

2.पीएम मोदी ने ब्राजील कंपनियों के भारत में आकर निवेश करने और वाणिज्यिक साझेदारी करने की अपील करते हुए कहा कि दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंध बेहतर हुए हैं।

3.दोनों देशों के बीच निवेश सहयोग संधि, मवेशी जीनोमिक्स और सहायक प्रजनन तकनीक, दवा उत्पादों के संबंधित विनियमन समेत चार अहम समझौतों पर दस्तखत हुए ।

4.दोनों नेताओं ने प्रतिनिधिमंडल स्तरीय वार्ताओं का नेतत्व किया। भारत और ब्राजील ने ड्रग रेगयूलेशन, कृषि अनुसंधान और साइबर सुरक्षा जैसे क्षेत्रों में सहयोग के नए अवसर शुरु करने पर भी बात की ।

5.भारत-ब्राजील कृषि और कृषिगत उद्योग में आपसी व्यापार के अलावा अब हवाई जहाज  निर्माण, शिप बिल्डिंग, तेल एवं गैस, फॉर्मा, एथेनॉल सहित कई नये क्षेत्रों में आपसी आर्थिक सहयोग की संभावनाएं तलाशेंगे।

6.दोनों देशों ने कृषि, पशुपालन, मछली पालन और प्राकृतिक संसाधन को लेकर आपसी सहयोग पर भी चर्चा की।

7.फॉर्मा सेक्टर को लेकर भारत-ब्राजील के बीच जो समझौता हुआ, उसमें ब्राजील ने भारतीय जेनेरिक दवा कंपनियों को अपने देश  में दवा-निर्माण इकाइयां एवं व्यापार के लिए आमंत्रित किया।

8.ब्राजील ने भारतीय दवा कंपनियों के रिसर्च एंड डेवलपमेंट के क्षेत्र में किए जा रहे प्रयासों की सराहना करते हुए इन भारतीय कंपनियो के साथ जुड़ने की इच्छा जताई।

9.भारत-ब्राजील ने पशुपालन से जुड़े तकनीकी पक्ष को लेकर जो समझौता किया, उसमें दोनों देश पशु जेनेरिक्स में शोध में एक-दूसरे को सहयोग करेंगे।

10.भारत-ब्राजील व्यापार सहयोग समझौते के तहत दोनों ही देशों ने अपने देश की कस्टम नीतियों को एक-दूसरे के लिए मित्रवत बनाने की बात कही है।

11.दोनों ही देशों ने माना कि भारत-ब्राजील के बीच व्यापार की अपार संभावनाएं मौजूद हैं और इसे तलाशने और क्रियान्वित करने की जरूरत है।

12.इस दौरान भारत-ब्राजील कारोबारी स्तर की वार्ता में आपसी व्यापारिक सहयोग के लिए नए रास्ते तलाशने के लिए प्रयास करने पर जोर दिया गया।

13.भारत और ब्राजील की छह-छह कंपनियों के सीईओ ने भी अलग से मुलाकात की और एक-दूसरे के यहां अपना निवेश बढ़ाने के लिए संभावनाएं तलाशने पर विचार किया।

भारत-ब्राजील वैश्विक परिदृश्य में कई समानताएं रखते हैं—दोनों ही देश ब्रिक्स के अलावा आईबीएसए, क्लाइमेट चेंज, जी-4 के सदस्य हैं; दोनों ही देश संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् में स्थायी सदस्यता के प्रबल दावेदार है; दोनों ही देशों की अर्थव्यवस्थाएं सबसे तेजी से आगे बढ़ने वाली विकासशील अर्थव्यवस्थाओं में से हैं।