Category: बैंक लेख

भारत रत्न

पुरुस्कार का इतिहास देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न की स्थापना 1954 में हुई थी. यह मानव प्रयास के किसी भी क्षेत्र में असाधारण सेवा, सर्वोच्च क्रम के प्रदर्शन की मान्यता के लिए दिया जाता है. जाति, व्यवसाय, स्थिति या...

आर्थिक शब्दावली – 3

गैर निष्पादनकारी सम्पत्ति – Non Performing Assets (NPA) गैर निष्पादनकारी परिसम्पत्ति से आशय ऐसे अग्रिमों या बैंकों द्वारा दिए गए पिछले ऋणों से है जिसका मूल धन तथा ब्याज का भुगतान ऋण के द्वारा 90 या उससे अधिक दिनों तक नहीं...

आर्थिक शब्दावली – 2

Bid Price वह कीमत जिस पर वित्तीय, प्रतिभूतिशेयर, विदेश मुद्रा या वस्तु को खरीदने के लिए बोली लगाई जाती है। एक तो नीची कीमत तथा दूसरी विक्रय कीमत जो ऊंची होती है जिस पर प्रतिभूति या वस्तु को बेचना है इन...

भारत की पंचवर्षीय योजनाएँ ( पहली योजना (1951-1956) )

पहली पंचवर्षीय योजना  (1 अप्रैल 1951 से 31 मार्च 1956) आज़ादी के बाद भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने समाजवादी आर्थिक मॉडल को आगे बढ़ाया। जवाहरलाल नेहरू ने अनेक महत्वपूर्ण आर्थिक निर्णय लिए जिनमें पंचवर्षीय योजना की शुरुआत भी थी।...

आर्थिक शब्दावली – 1

सर्वव्यापी बैंकिंग जब वाणिज्यिक बैंक सामान्य बैंकों के कार्यों के साथ-साथ औद्योगिक इकाइयों के दीर्घकालीन वित्तीयन के भी कार्य को करने लगें तो इसे सर्वव्यापी बैंकिंग कहते हैं। Bottom Fisher यह शब्द एक ऐसे विनियोक्त के लिए प्रयुक्त किया जाता है...

M S F

MSF – Marginal Standing Facility आज हम MSF की बात करेंगे जिसका फुल फॉर्म है – Marginal Standing Facility. MSF भी बैंकिंग से सम्बंधित टर्म है. भारतीय रिजर्व बैंक ने अपनी मौद्रिक नीति (2011-12) में सीमांत स्थायी सुविधा (एमएसएफ) शुरू की...

क्या है NPS अकाउंट ?

NRI के लिए NPS अकाउंट नॉन-रेजिडेंट इंडियंस को नैशनल पेंशन सिस्टम के तहत खाते खोलने की इजाजत मिल गई है। एनपीएस अकाउंट खोलकर एनआरआई इंडिया में पेंशन कॉरपस बना सकते हैं। इससे जुड़ी जानकारी नीचे दी गई है… कौन सब्सक्राइब करेगा?...

Gross Value Added (GVA ) तथा Gross Domestic Product (GDP)

GVA और GDP में अंतर आर्थिक वृद्धि दर के आंकड़ों के लिए वर्षों से ग्रॉस डोमेस्टिक प्रॉडक्ट्स (जीडीपी) पर निर्भर रहने के बाद अब पॉलिसी मेकर्स उसके लिए ग्रॉस वैल्यू एडेड (जीवीए) का इस्तेमाल करने के बारे में विचार करने लगे...