October 14, 2018, #DSRV, # Elections, #Shekh Hasina

भारतीय नौसेना में शामिल हुआ डीएसआरवी

#DSRV, # Elections, #Shekh Hasina

नौसेना ने गहरे समुद्र में पनडुब्बी के दुर्घटनाग्रस्त होने की हालत में बचाव और राहत कार्य में मदद देने वाले पहले पोत को सेवा में लिया है. पोत डीप सबर्मजेंस रेस्क्यू वेसेल की तैनाती के साथ भारत उन चुनिंदा देशों के समूह में शामिल हो गया है, जिसके पास संकट में फंसी पनडुब्बी का पता लगाने और बचाव करने की क्षमता है. वर्तमान में अमेरिका, चीन, रूस और कुछ अन्य देशों के पास डीएसआरवी को तैनात करने की क्षमता है। ‘डीएसआरवी का इस्तेमाल दुर्घटना की शिकार पनडुब्बी के कर्मियों को बचाने में किया जाता है. इसके साथ ही समुद्र के भीतर तार बिछाने सहित विभिन्न अभियानों के लिए भी इन्हें तैनात किया जाता है. कुछ डीएसआरवी पोत को बड़े मालवाहक जहाजों के जरिए दूसरी जगह भी ले जाया जाता है ।

छत्तीसगढ़ कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष भाजपा में शामिल

#DSRV, # Elections, #Shekh Hasina

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष रामदयाल उइके कांग्रेस पार्टी का दामन छोड़कर बीजेपी में शामिल हो गए हैं. मुख्यमंत्री रमन सिंह, पार्टी महासचिव सरोज पांडेय और छत्तीसगढ़ के भाजपा अध्यक्ष धरमलाल कौशिक की मौजूदगी में रामदयाल ने पार्टी की सदस्यता ग्रहण की. आदिवासी नेता के रूप में रामदयाल उइके की खासी पहचान है और वर्तमान में वो पाली तानाखार सीट से विधायक भी हैं. लिहाजा उनका कांग्रेस छोड़ना पार्टी के लिए झटका माना जा रहा है.

शास्‍त्रीय संगीत वादक अन्‍नपूर्णा देवी का निधन हुआ

#DSRV, # Elections, #Shekh Hasina

शास्‍त्रीय संगीत वादक अन्‍नपूर्णा देवी का निधन मुम्‍बई के एक अस्‍पताल में हो गया  वे 91 वर्ष की थी। अल्‍लाउद्दीन खान की पुत्री और शिष्‍या अन्‍नपूर्णा देवी हिन्‍दुस्‍तानी शास्‍त्रीय संगीत की भारतीय सुर बहार की वादक थी। वे प्रसिद्ध सितार वादक पंडित रविशंकर की पत्‍नी थी।

बांग्लादेश: प्रधानमंत्री की हत्या की साजिश में 19 लोगों को सजा ए मौत

#DSRV, # Elections, #Shekh Hasina

बांग्लादेश की एक अदालत ने 2004 में प्रधानमंत्री शेख हसीना की हत्या की साजिश में भूमिका के लिए विपक्षी बीएनपी प्रमुख खालिदा जिया के भगोड़े बेटे और उनके राजनीतिक उत्तराधिकारी तारिक रहमान को उम्रकैद और पूर्व गृहमंत्री सहित 19 अन्य को फांसी की सजा सुनाई।

बांग्लादेश की मौजूदा प्रधानमंत्री (तत्कालीन विपक्षी नेता) हसीना को लक्ष्य बनाते हुए यह हमला 21 अगस्त, 2004 को अवामी लीग की एक रैली पर उस समय किया गया था जब हजारों समर्थकों के सामने वह अपना भाषण खत्म करने वाली थी। हसीना इस हमले में बच गईं थीं लेकिन उनकी सुनने की क्षमता को कुछ नुकसान हुआ था। उनकी पार्टी की महिला मोर्चा प्रमुख और पूर्व अध्यक्ष जिल्लुर रहमान की पत्नी इवी रहमान की इस विस्फोट में मौत हो गई थी।रहमान पर उनकी गैरमौजूदगी में मुकदमा चला और अदालत ने उन्हें एक ‘भगोड़ा’ घोषित कर दिया था। वह फिलहाल लंदन में हैं जहां माना जा रहा है कि उन्होंने शरण मांगी है। हालांकि ब्रिटिश अधिकारियों ने उनकी आव्रजन स्थिति के बारे में बताने से इनकार कर दिया है।

2 Comments

  1. Guest_97672030258

    very good

  2. Guest_14379316376

    Bahut badiya hai

Leave a Reply